Tuesday, March 2, 2021

लीगल एक्शन: FWICE ने राम गोपाल वर्मा के खिलाफ लिया लीगल एक्शन, डायरेक्टर पर फेडरेशन के वर्करों का सवा करोड़ रुपए नहीं चुकाने का इल्जाम

फेडरेशन ऑफ वेस्टर्न इंडिया सिने एम्प्लॉयज (FWICE) ने प्रोड्यूसर-डायरेक्टर रामगोपाल वर्मा के खिलाफ लीगल एक्शन लिया है। कलाकारों, टेक्नीशियनों और वर्करों का मेहनताना भुगतान न करने की स्थिति में अब भविष्य में फेडरेशन की 32 यूनियन में से कोई भी सदस्य रामगोपाल के साथ काम नहीं करेगा। खबरों के मुताबिक, राम गोपाल वर्मा ने कलाकारों, टेक्नीशियनों और वर्करों का सवा करोड़ रुपया बकाया नहीं चुकाया है। जबकि फेडरेशन उनसे साल 2018 से बकाया भुगतान करने के लिए कहते आ रहा है।

राम ने नहीं चुकाए मुंबई फेडरेशन के सवा करोड़ रुपए
दैनिक भास्कर से विशेष बात करते हुए फेडरेशन के प्रेसिडेंट बीएन तिवारी ने बताया कि राम गोपाल वर्मा के खिलाफ 2018 से लोगों की शिकायत आ रही है। पहले उन्होंने मुंबई छोड़ा, यहां भी ऑफिस के लोगों का भी पेमेंट नहीं किया था। इसके बाद वे हैदराबाद और यहां से गोवा चले गए। हैदराबाद के एसोसिएशन का भी पैसा बाकी है। पर कितना बाकी है इसकी जानकारी नहीं है। लेकिन मुंबई फेडरेशन के सवा करोड़ रुपए बकाया हैं। इसके लिए हमें दो बार गोवा जाना पड़ा। वह बोलते रहे कि आप आइए, हम मिलकर बात करते हैं। लेकिन वहां जाने के बाद वे हमारा फोन उठाना बंद कर देते थे।

गरीब वर्करों का पैसा न देकर घटिया काम कर रहे हैं
बीएन तिवारी ने आगे बताया, अभी 4 जनवरी, 2021 को हम लोगों को राम गोपाल ने हैदराबाद मिलने के लिए बुलाया था। कहा कि यहां आ जाइए, बात करेंगे। वहां जाने के बाद फोन पर हैलो, हैलो बोलकर फोन काट देते थे। बाद में तो फोन ही स्विच ऑफ कर दिया। उनसे मुलाकात भी नहीं हुई। इस आदमी ने हमें बहुत परेशान किया। एक चर्चित डायरेक्टर-प्रोड्यूसर होकर इस तरह से कलाकारों, टेक्नीशियन और गरीब वर्करों का पैसा न देकर घटिया काम कर रहा है। जिनके पैसे बाकी हैं, वे कम से कम 50 लोग होंगे। हमने 2018 में ही उनको नॉन कोऑपरेशन नोटिस भेज दिया था। इसकी जानकारी प्रोड्यूसर बॉडी आदि को भी दी जा चुकी है। लेकिन राम गोपाल टाइम देते रहे, रिक्वेस्ट करते रहे, पर कुछ किया नहीं।

भविष्य में राम गोपाल के साथ काम नहीं करने का लिया फैसला
बहरहाल, फेडरेशन के प्रेसिडेंट बीएन तिवारी, जनरल सेक्रेटरी अशोक दुबे और ट्रेजरार गंगेश्वरलाल श्रीवास्तव (संजू भाई) ने प्रेस नोट जारी कर बताया है कि इस बाबत हम लोगों ने पहले ही लीगल नोटिस उन्हें भेजा हुआ है। FWICE की ओर से राम गोपाल वर्मा को 17 सितंबर 2020 को पत्र लिखकर उन कलाकारों, टेक्नीशियन और गरीब वर्करों की पूरी सूची और बकाया राशि का विवरण उन्हें दिया गया था।

इस बारे में कई अन्य बार भी राम गोपाल वर्मा को FWICE ने पत्र लिखा, लेकिन उन्होंने पत्र को लेने से ही इनकार कर दिया। हमने गोवा के मुख्यमंत्री को भी 10 सितंबर 2020 को पत्र लिखा था। लेकिन अब मजबूरी में उनके साथ भविष्य में काम नहीं करने का फैसला लिया गया है। इस बारे में IMPPA और GUILD तथा सभी प्रमुख यूनियनों को सूचित कर दिया गया है।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

21,602FansLike
0FollowersFollow
17,300SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles