Tuesday, March 2, 2021

Biden Oath: अमेरिका के 46वें राष्ट्रपति बने जो बाइडेन, भारतवंशी कमला हैरिस पहली महिला उपराष्ट्रपति

 दुनिया की सबसे बड़ी ताकतों में शुमार संयुक्त राज्य अमेरिका में बुधवार को आधिकारिक रूप से सत्ता रिपब्लिकन के हाथ से निकलकर डेमोक्रेट्स के पास चली गई। डेमोक्रेट जोसेफ आर बाइडेन जूनियर यानी जो बाइडेन ने अमेरिका के 46वें राष्ट्रपति के तौर पर शपथ ली। बतौर राष्ट्रपति अपने पहले भाषण में उन्होंने कहा कि ये अमेरिका का दिन है। ये लोकतंत्र की जीत है और जश्न का समय है। नया इतिहास बन रहा है। बता दें कि बाइडेन अमेरिकी इतिहास के सबसे उम्रदराज राष्ट्रपति बने। उनकी उम्र 78 साल है।

यानी अमेरिका में बाइडेन युग की शुरुआत हो गई है। जो बाइडेन के साथ भारतीय मूल की कमला हैरिस ने अमेरिका की 49वीं उपराष्ट्रपति के तौर पर शपथ ली। 56 साल की कमला हैरिस ने इसके साथ ही इतिहास रच दिया। वे पहली महिला, अश्वेत और भारतवंशी उपराष्ट्रपति हैं। शपथ ग्रहण समारोह कैपिटल हिल में हुआ। अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति जॉर्ज बुश, बिल क्लिंटन और बराक ओबामा समारोह में मौजूद रहे। कड़ी सुरक्षा के बीच अमेरिका में ये समारोह हुआ। इसके लिए करीब 25 हजार नेशनल गार्ड अमेरिकी राजधानी में तैनात किए गए थे।

बाइडन ने ली 46वें राष्ट्रपति पद की शपथ
जो बाइडन ने भी कार्यालय की शपथ ले ली है। उन्हें मुख्य न्यायाधीश जॉन रॉबर्ट्स ने शपथ दिलाई। इसी के साथ जो बाइडन अमेरिका के 46वें राष्ट्रपति बन गए।

कमला हैरिस ने ली उपराष्ट्रपति पद की शपथ
कमला हैरिस ने अमेरिका के उपराष्ट्रपति पद की शपथ ली है। वो इस पद पर पहुंचने वाली अमेरिका की पहली महिला हैं। इसी के साथ उन्होंने इतिहास भी रच दिया।

Image

लेडी गागा ने गाया राष्ट्रगान
प्रसिद्ध गायिका लेडी गागा ने बाइडन के शपथ ग्रहण से पहले अमेरिकी राष्ट्रगान गाया। लेडी गागा ने इसके लिए एक सुनहरे माइक का इस्तेमाल किया। लेडी गागा के अलावा कार्यक्रम में जेनिफर लोपेज आदि कलाकार भी प्रस्तुतियां देंगे।

आज लोकतंत्र के फिर से खुद खड़े होने का दिन
मिनेसोटा से डेमोक्रेट सीनेटर एमी क्लोबुशर ने कार्यक्रम में मौजूद लोगों का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि यह समारोह एक लोकतंत्र के 244 साल के सफर का परिणाम है। उन्होंने कहा कि आज का गिन वह है जब हमारा लोकतंत्र खुद उठ खड़ा होगा, अपनी धूल झाड़ेगा जैसा कि अमेरिका हर बार करता है।

जाते-जाते एक और क्षमादान दे गए ट्रंप
डोनाल्ड ट्रंप ने राष्ट्रपति के रूप में अपने अंतिम क्षणों में एक और व्यक्ति के क्षमादान पर मुहर लगा दी। डिप्टी प्रेस सचिव जुड डीयर ने एक बयान में कहा, आज राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अल्बर्ड जे पिरो जूनियर को पूरा क्षमादान दिया। पिरो ट्रंप से सहयोगी जज जिनीन पिरो के पूर्व पति हैं।

सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए
बता दें कि बीते दिनों निवर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के समर्थकों द्वारा अमेरिकी संसद कैपिटल हिल में किए गए प्रदर्शन के बाद स्थिति को लेकर खास सतर्कता बरती गई। इसे लेकर सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। बाइडन को चीफ जस्टिस जॉन रॉबर्ट्स कैपिटल बिल्डिंग (संसद भवन) के वेस्ट फ्रंट में दोपहर 12 बजे (स्थानीय समयानुसार) पद व गोपनीयता की शपथ दिलाएंगे।

पीएम मोदी ने बाइडेन को दी बधाई
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर जो बाइडेन को बधाई दी है। उन्होंने कहा कि संयुक्त राज्य अमेरिका के राष्ट्रपति के रूप में पदभार ग्रहण करने पर जो बाइडेन को मेरी हार्दिक बधाई। मैं उसके साथ काम करते हुए भारत-अमेरिका रणनीतिक साझेदारी को मजबूत करने की उम्मीद करता हूं।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

21,602FansLike
0FollowersFollow
17,300SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles