Thursday, February 25, 2021

Corona: चीन ने पाकिस्तान को दिखाए तेवर, 22 करोड़ की आबादी के लिए दे रहा सिर्फ 5 लाख टीके

इस्लामाबाद. पाकिस्तान (Pakistan) को अपना दोस्त बोलने वाले चीन (China) ने कोरोना वैक्सीन के मामले में भी उसकी उम्मीदों पर पानी फेर दिया है. 22 करोड़ की आबादी वाले पाकिस्तान को चीन ने केवल 5 लाख टीके देकर टरका दिया है. वह भी तब जब पाकिस्तान ने दोस्त के सामने अपनी झोली फैलाकर मदद की गुहार लगाई. और तो और चीन ने पाकिस्तान की बेइज्जती भी कर डाली है और कहा है कि अपना विमान लाकर ये टीके ले जाना. खुद को महाशक्ति बताने वाले चीन का दिल कितना छोटा है इसका अंदाजा इस बात से लगाइए कि भारत ने पड़ोसी देश नेपाल को 10 लाख टीके भेजे हैं, जबकि उसकी आबादी 3 करोड़ से भी कम है.

पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने इस बात की घोषणा करते हुए कहा है कि चीन ने पाकिस्तान को 31 जनवरी तक कोरोना वैक्सीन की 5 लाख डोज उपलब्ध कराने का वादा किया है. चाइनीज समकक्ष वांग यी के साथ टेलीफोन पर बातचीत के बाद कुरैशी ने एक वीडियो मैसेज के जरिए मुल्क को यह जानकारी दी. उन्होंने यह भी कहा कि बीजिंग ने इस्लामाबाद से कहा है कि अपना प्लेन भेजकर वैक्सीन उठा लेना. पाकिस्तानी अखबार डॉन की एक रिपोर्ट के मुताबिक, विदेश मंत्री ने कहा कि चीनी विदेश मंत्री के साथ उनकी विस्तृत बातचीत हुई और उन्होंने पाकिस्तान की जरूरतों को लेकर चर्चा की. कुरैशी ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के निर्देश पर चीन से मदद मांगी थी. इमरान खान ने स्थिति की गंभीरता को देखते हुए बीजिंग से गुहार लगाने को कहा था. कुरैशी ने इस बेइज्जती को गुड न्यूज का नाम देते हुए कहा, ”मैं देश को खुशखबरी देना चाहता हूं कि चीन ने 31 जनवरी तक पाकिस्तान को 5 लाख डोज देने का वादा किया है. उन्होंने (चीन) ने कहा है कि अपना विमान भेजे और दवा उठा लो.”

ये भी पढ़ें: नेपाल पहुंचा भारत का ‘वैक्सीन तोहफा’, कोविशील्ड के 10 लाख टीके दिएएक ट्वीट में कुरैशी ने यह भी बताया कि कोरोना संक्रमण से बचाने वाले ये टीके सिनोफार्मा के होंगे, जिसे पाकिस्तान मंजूरी दे चुका है. कुरैशी ने ट्वीट किया, ”चाइनीज वैक्सीन के अच्छे परिणाम और हमारे ऐतिहासिक रिश्तों के परिणामस्वरूप पाकिस्तान ने सिनोफार्मा वैक्सीन को इमर्जेंसी इस्तेमाल की मंजूरी दी है. पाकिस्तान चीन की ओर से गिफ्ट किए जा रहे 5 लाख डोज की बहुत सराहना करता है.” हालांकि, कुरैशी ने यह भी कहा है कि उन्होंने अपने चीनी समकक्ष को बता दिया कि पाकिस्तान को इससे अधिक की आवश्कता है और उन्हें नजदीकी समय में 11 लाख डोज की आवश्यकता होगी. कुरैशी ने कहा है कि चीन ने कहा कि वह इसके बारे में विचार करेंगे और फरवरी के अंत तक 11 लाख डोज दे देंगे.

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

21,575FansLike
0FollowersFollow
17,200SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles